Top 10 things everyone should know about Astrology!

Top 10 things everyone should know about Astrology!

प्रेम विच्छेद को कैसे रोकें? - अपनाएं ये कारगर ज्योतिषीय उपाय

View:46

प्रेम विच्छेद को कैसे रोकें? - अपनाएं ये कारगर ज्योतिषीय उपाय

प्रेम सम्बन्ध आज के आधुनिक युग का अहम् हिस्सा बन चूका है। आज के युग की तकनीकी उपलब्धता, विचारों का खुलापन, आधुनिक लाइफस्टाइल, पाश्चात्य संस्कृति का बोलबाला, युवाओं व युवतियों के विद्यालों, कॉलेजों व कार्य स्थलों पर नज़दीकी सम्बन्ध आदि सभी प्रेम संबंधों को बढ़ावा देते हैं।

Your Previous Relationship May tell What You Are- Different Zodiac Signs Decoded

View:137

Your Previous Relationship May tell What You Are- Different Zodiac Signs Decoded

You always look for new generous ways to appreciate the qualities of your partner and also expect the same in return. But not every time things work in a desired manner and the situations make us gain unique knowledge about our behavior and unique character.

Will you get good marks? Ask Astrology

View:218

Will you get good marks? Ask Astrology

A successful life depends hugely on good education! It is the prime most subject of concern for almost all the parents.

Articles

Read Articles in English
astrology-articles

View:5547

‘‘नाक’’ की आकृति: स्वभाव एवं भविष्य !

आप कोई भी हों, स्त्री या पुरुष राजनीतिज्ञ, व्यापारी, कर्मचारी अथवा समाज सेवक या कुछ और .. ! कुछ भी कार्य करते हों आपका संबंध अपने जैसे पुरुष अथवा स्त्री से पड़ना स्वाभाविक है। यदि आपको उन्हें देखकर ही उनके आचार व्यवहार का आभास हो जाय तो आपको उनको समझने में सहजता प्राप्त होगी और उनके साथ संबंध की सीमा निर्धारित करने में मदद मिलेगी। इसी परिप्रेक्ष्य में मुखाकृति के प्रमुख अंग-नाक की शरीर वैज्ञानिकता के साथ स्वभाव का फलादेश प्रस्तुत है।

astrology-articles

View:6033

‘मंगल दोष’ विचार

अच्छी आय तथा शांत वैवाहिक जीवन, जातक के भावी सुखी जीवन का आधार होते हैं। अतः पढ़ाई के बाद नौकरी अथवा व्यवसाय में स्थिरता आते ही सभी हिंदू परिवार अपनी संतान के सुखी वैवाहिक जीवन के बारे में आश्वस्त होने के लिए विवाह पूर्व प्रस्तावित वर-वधू की जन्म कुंडलियों का किसी ज्योतिषाचार्य अथवा पंडित जी द्वारा आकलन कराते हैं, जिसे ‘कुंडली मिलान’ या ‘अष्टकूट मिलान’ कहते हैं।

astrology-articles

View:1128

‘संजू’ बाबा- फिर एक बार सुर्खियों में

फिल्म संजू ने बाॅक्स आॅफिस के कई रिकार्ड तोड़ दिये हैं। करोड़ों रुपयों की कमाई करके बॉलीवुड हिस्ट्री में अपना नाम दर्ज कराने वाली फिल्म ‘संजू’ ने कई रिकॉर्ड्स बना लिये हैं। क्या यह फिल्म संजय दत्त का भाग्य बदल पायेगी? जानने के लिए पढ़ें यह आलेख ...

astrology-articles

View:3606

2 जी स्पेक्ट्रम की पृष्ठभूमि में ए. राजा

२ जी स्पेक्ट्रम की पृष्ठभूमि में ए. राजा की भूमिका और ज्योतिषीय आइने में उनके भविष्य की झांकी देखने के लिए इस लेख को पढना विष्लेषण उचित रहेगा।

astrology-articles

View:3930

2011 का लग्न नक्षत्रानुसार भविष्यफल

किस मास में किस वार को पड़ता है इस लग्न नक्षत्र के आधार पर वार्षिक फलादेश की जानकारी प्राप्त कीजिए इस लेख द्वारा।

astrology-articles

View:3039

2012 में भारत का राजनीतिक भविष्य

काल का निरंतर चलता पहिया किस राजनीतिक दिग्गज को राजनीतिक संगम के किस घाट पर उतार रहा है इसका विहंगावलोकन आप भी कर सकते हैं इस लेख मे किये गये ज्योतिष विश्लेषण के माध्यम से।

astrology-articles

View:7459

2013-2014 में शनि-राहु की जोड़ी भारत की तस्वीर और तकदीर बदल देगी

बच्चन को चमकाया और 1994-95 में शाहरूख खान को। 2013-2014 में ये दोनों सितारे अपने जीवन के सर्वोच्च शिखर पर होंगे। यों तो यह युति हर 11 साल बाद आती है परंतु अन्य ग्रहों की स्थिति हर बार अलग होगी और घटनाक्रम अप्रत्याशित होगा परंतु पहले से भिन्न होगा। 2013 में यही शनि और राहु का संगम कुछ नए गुल खिला चुका है और अभी आश्चर्यजनक तथ्य आने बाकी हैं। इसका मुख्य कारण शनि का 18 फरवरी से 8 जुलाई तक वक्री रहना है। आपने देखा इस अवधि में बहुत सी ऐतिहासिक घटनाएं देश को झिंझोड़ देने वाली सामने आई। सरबजीत, चमेल सिंह का कत्ल। भारत में पाकिस्तानी कैदी पर हमला जिससे दोनों देशों की जनता हिल गई। कई तरह के जी नुमा घोटाले, कोलगेट और रेलगेट जैसे खुलासे ... .. जिसमें सरकार हिल गई। क्रिकेट जगत में फिक्सिंग जैसी घटनाएं जो देशवासियों को हिला देती हैं। चीन और पाकिस्तान ने हमारी सीमाओं पर घुसपैठ की। शनि व राहु का गठबंधन, राजनीति, अर्थव्यवस्था में विश्वव्यापी परिवर्तन लाता है। राहु धोखे करता है और शनि उसे उजागर करता है। शनि न्यायाधीश है और दोषियों को दंडित करता है। जैसे केंद्र सरकार के मंत्रियों को शनि ने मालामाल तो

astrology-articles

View:5572

2014 के सौभाग्यशाली संतान योग

इस आलेख का मुख्य उद्देश्य यह है कि हम नवविवाहित दंपत्तियों को अपनी भावी संतान के भविष्य को समझने के लिए कुछ सूत्र दे सकें और वे अपनी संतान के सौभाग्य के लिए उन्हें उनके अनुकूल व श्रेष्ठ समय में संसार में ला सकें। आजकल ज्यादातर लोग बच्चे के जन्म के समय ज्योतिषी के पास जाकर पूछते हैं कि गर्भाधान के लिए श्रेष्ठ समय कौन सा होगा व आपरेशन द्वारा बच्चे के जन्म का श्रेष्ठ समय कौन सा है?

astrology-articles

View:4226

2015 नववर्ष मंगलकारी कैसे हो

नववर्ष 2015 हमारे लिये कैसा होगा, ग्रहों व नक्षत्रों का प्रभाव हम पर किस प्रकार का होगा, हम क्या उपाय करें कि नववर्ष हमारे लिये मंगलकारी हो - यह उत्सुकता जनमानस में, नववर्ष आने से पहले ही जन्म ले लेती है। नये साल में हमें अनेक विपदाओं व अशुभता का भी सामना करना पड़ सकता है। ग्रह व नक्षत्र तो शुभ व अशुभ दोनों प्रकार के फल देंगे परंतु अशुभता को हम अपने जीवन में कैसे स्थान दे सकते हैं। शुभता तो हम सभी को स्वीकार्य है जबकि अशुभता व परेशानियों से बचने की हम सभी कोशिश करते हैं। किसी को तो सफलता मिल जाती है परंतु अधिकांश उचित उपाय ढूंढ़ते ही रह जाते हैं। आईये हम जानते हैं कि नववर्ष 2015 में शुभता में वृद्धि व अशुभता का नाश किन उपायों से किया जा सकता है।

astrology-articles

View:5248

2015 में भारत की राजनीति, अर्थव्यवस्था और शेयर बाजार

वर्ष 2015 में भारत वर्ष की कुंडली में नव ग्रहों का गोचर में संचार हमारे देश की राजनीति, अर्थव्यवस्था और शेयर बाजार को किस प्रकार प्रभावित करेगा और आपको लाभ कमाने में कैसे मदद कर सकता है उसका ज्योतिषीय पूर्वानुमान यहां प्रस्तुत है:

astrology-articles

View:4633

2016 में भारत की राजनीति, अर्थव्यवस्था और शेयर बाजार

आज भारतवर्ष विश्व में अपना अलग राजनैतिक, आर्थिक और सांस्कृतिक महत्व रखता है। सबसे अधिक युवा शक्ति के साथ तकनीकी ज्ञान, सांस्कृतिक धरोहर से परिपूर्ण एवं प्राकृतिक सम्पदा से भरपूर सबसे बड़ा लोकतान्त्रिक देश होने का गौरव हमारे राष्ट्र को आज प्राप्त है और आज पूर्ण विश्व भारतवर्ष को आर्थिक निवेश के लिए सर्वोत्तम स्थान स्वीकार कर रहा है। ज्योतिष के आधार पर हम यह जानने का प्रयास करेंगे कि नव वर्ष में हमारे देश की राजनीति, अर्थव्यवस्था और शेयर बाजार की प्रगति की रूपरेखा कैसी रहेगी।

astrology-articles

View:28680

2016 में मौसम का हाल

01-01-2016 को 00-01-00 समय के अनुसार कन्या लग्न सिंह राशि 10 अंश 11 कला 4 विकला में उदय हुआ। लग्न में राहु, द्वितीय में मंगल, तृतीय में शुक्र, शनि की युति, चतुर्थ में सूर्य, पंचम में बुध, सप्तम में केतु, द्वादश में गुरु-चंद्रमा की युति है। कुंडली के अनुसार भारत में मौसम का प्रभाव इस प्रकार रहेगा।